WATV.org is provided in English. Would you like to change to English?

आया, राजा की एक और माता

519 देखे जाने की संख्या

कोरिया में जोसियन राजवंश के राजकुमार को एक आया द्वारा बड़ा किया गया था। रानी, जिसे राज्य की माता के रूप में अपनी भूमिका निभानी थी, केवल बच्चों की देखभाल पर ध्यान केंद्रित नहीं कर सकती थी, और खुद ही अपने बच्चे को खिलाना, नहलाना, और डायपर बदलने का काम बहुत ज्यादा था। राजकुमार उस आया को, जो हमेशा अपनी देखभाल करती थी, एक और माता के रूप में मानता था। एक बार राजकुमार अभिषिक्त राजा बन गया, तो उसकी आया को उसके योगदान की मान्यता में उच्च सरकारी पद दिया गया। यहां तक कि उसे कई नौकर-चाकर, घुमाने के लिए पालकी और कभी-कभी शाही उपहार भी प्राप्त होते थे। उस आया का जीवन जो निम्न वर्गीय लोगों की थी, पूरी तरह से बदल जाता था और यह उसके परिवार के लिए सम्मान थी।

लेकिन, हर कोई आया नहीं बन सकती थी। उसे अपनी शारीरिक गठन, स्तनपान, स्वास्थ्य इत्यादि पर कठोर जांच से गुजरना पड़ता था। इन सभी चीजों में, जो मापदंड अपरिहार्य था वह चरित्र था। जोसियन राजवंश का लिखित वृत्तांत  कहता है, “राजकुमार की आया के रूप में, एक ऐसी महिला का चयन किया जाना चाहिए जो शिक्षक के रूप में राजकुमार की सेवा करने के लिए उदार, कोमल, स्नेहपूर्ण, विनम्र, शालीन, और शांत हो।”

आया जो राजकुमार के करीब रहकर एक माता की भूमिका निभाती थी, उसे अपने व्यवहार में माता की गर्मजोशी होना आवश्यक थी।