साझेदारी

एक आशापूर्ण भविष्य बनाने में सहयोग

चर्च ऑफ गॉड पर्यावरण संरक्षण, मानवाधिकार संरक्षण, शैक्षिक सहायता और संयुक्त राष्ट्र के SDGs के कार्यान्वयन में सरकारों, नगर पालिकाओं, विश्वविद्यालयों, आदि के साथ लगातार सहयोग करता है। हम सभी के आशापूर्ण भविष्य और सतत विकास के लिए वैश्विक संचार और सामंजस्य को महत्व देते हैं।

संयुक्त राष्ट्र के CERF उच्च स्तरीय सम्मेलन में
आमंत्रित किया गया, यह एक चर्च के लिए पहली बार था।

चर्च ऑफ गॉड के प्रधान पादरी किम जू चिअल का भाषण

13 दिसंबर 2016 को, चर्च ऑफ गॉड को संयुक्त राष्ट्र के केंद्रीय आपदा प्रतिक्रिया कोष(CERF) के उच्च स्तरीय सम्मेलन में आमंत्रित किया गया, यह एक चर्च के लिए पहली बार था। इस तरह की सम्मेलन में जिसमें प्रत्येक देश के मंत्रियों, संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों, आब्जर्वर और संयुक्त राष्ट्र के संगठनों ने भाग लिया, एक चर्च के प्रतिनिधि को आमंत्रित किया जाना अभूतपूर्व था। यह दिखाता है कि संयुक्त राष्ट्र ने चर्च ऑफ गॉड के ईमानदार स्वयंसेवा कार्य की सराहना की।

संयुक्त राष्ट्र केंद्रीय आपदा प्रतिक्रिया कोष

हैती भूकंप से पीड़ित लोगों के लिए राहत दान दिया गया

2010 में भयानक भूकंप से प्रभावित हैती में पीड़ितों की मदद करने के लिए, चर्च ऑफ गॉड ने
मसीहा चैरिटी आर्केस्ट्रा कॉन्सर्ट का आयोजन किया जिसमें 8,000 से अधिक दर्शकों ने भाग लिया। उसी वर्ष जून में,
प्रधान पादरी किम जू चिअल ने संयुक्त राष्ट्र CERF को एक लाख डॉलर का दान दिया। संयुक्त राष्ट्र ने उससे भेंट करने के लिए कहा और एक साझेदारी का प्रस्ताव रखा।

संयुक्त राष्ट्र सतत विकास लक्ष्य(SDGs) के
कार्यान्वयन के लिए समझौता ज्ञापन(MOU)

ब्राजील में सैंटोआंद्रे नगर पालिका
2017-07-18
दक्षिण अफ्रीका में श्वने शहर
2017-07-27
भारत में रायपुर शहर
2017-08-02
भारत में बैंगलोर शहर
2017-11-16
ब्राजील के साओ पाउलो में ग्वानेसेस जिला
2017-07-27
मंगोलिया के उलानबाटर में खान-उल जिला
2017-07-24
मंगोलिया में राष्ट्रीय रक्तदान केंद्र
2017-07-24
मंगोलिया में जीव विज्ञान के मंगोलियाई विश्वविद्यालय
2017-07-24
भारत के बैंगलोर में सेंट जोसफ्स कॉलेज
2017-08-01
भारत के रायपुर में कलिंगा विश्वविद्यालय
2017-08-02

संयुक्त राष्ट्र SDGs के कार्यान्वयन के लिए वैश्विक साझेदारी

हमने संयुक्त राष्ट्र के SDGs की समझ को बढ़ावा देने और कॉलेज के छात्रों को सक्रिय रूप से काम करने में प्रोत्साहित करने के लिए 10 देशों के 11 क्षेत्रों में अंतरराष्ट्रीय फोरम का आयोजन किया, जैसे कि अमेरिका, पेरू, मैक्सिको, ताइवान, भारत, अर्जेंटीना, फिलीपींस और कोरिया। हम कॉलेज के छात्रों की गतिविधियों को व्यवस्थित करते हैं जिनके पास चुनौती की भावना और जुनून है और कई संगठनों के साथ साझेदारी बनाते हुए छात्रों की इच्छा शक्ति को मजबूत करते हैं।

SDGs के लिए संयुक्त राष्ट्र प्रभाग के साथ सभा

ASEZ सदस्यों ने अमेरिका के न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय का दौरा किया और SDGs को लागू करने की योजनाओं पर चर्चा करने के लिए संबंधित व्यक्तियों के साथ सभा की। उन्होंने अपने देशों में सहयोग का प्रस्ताव करने के लिए अमेरिका के वाशिंगटन डी. सी. में पांच अफ्रीकी दूतावासों का दौरा किया और उनसे ASEZ की गतिविधियों के लिए सक्रिय समर्थन प्राप्त किया।

नेपाल में भूकंप बहाली का प्रयास और समझौता ज्ञापन(MOU) पर हस्ताक्षर

2015 में नेपाल में 7.8 तीव्रता का भूकंप आया था। हमने अपने पूरे मन से राहत और बहाली के प्रयास किए। हमने नेपाल में शिक्षा मंत्रालय के साथ ढह गए स्कूलों के पुनर्निर्माण के लिए समझौता ज्ञापन(MOU) पर हस्ताक्षर किए। "मदर्स स्कूल" परियोजना के परिणामस्वरूप, दो स्कूलों का पुनर्निर्माण किया गया।

प्रधान पादरी किम जू चिअल ने नवंबर, 2016 में नेपाल का दौरा किया और काभ्रे में श्री भवानी लोअर सेकेंडरी स्कूल के निर्माण का समापन और दान समारोह में भाग लिया। हमने स्वच्छ स्कूल की आपूर्तियां दान कीं जैसे कि मेज, कुर्सियां, और नए कक्षाओं के लिए ब्लैकबोर्ड इत्यादि, और हमने नेपाली छात्रों के सपनों का समर्थन किया।

भूकंप से क्षतिग्रस्त हुए स्कूलों के पुनर्निर्माण के लिए समझौता ज्ञापन(MOU)

नेपाली शिक्षा मंत्रालय
2015-07-29
भक्तपुर में शिक्षा विभाग के महानिदेशक
दिलीराम रिमल

“आप जोश और प्रयासों के साथ नेपाली बच्चों की मदद करने की कोशिश कर रहे हैं। मैं सच में आभारी हूं। आज, नेपाली सरकार और शिक्षा मंत्रालय की ओर से, मैं स्कूलों के निर्माण के लिए एक समझौता ज्ञापन(MOU) पर हस्ताक्षर करता हूं। नेपाल सरकार ईमानदारी से आपको धन्यवाद देती है।”

पर्यावरण की रक्षा के लिए समझौता ज्ञापन(MOU)

नेपाल में काठमांडू
2015-07-31
काठमांडू के मेयर
रुद्र सिंह तामांग

“आपने ‘ग्रीन काठमांडू’ इस नारे के तहत एक बनने का अच्छा प्रस्ताव दिया है। आप काठमांडू में छात्रों को जो नेपाल का भविष्य हैं, बेहतर भविष्य के लिए स्वयंसेवा कार्य करने के लिए प्रेरित करेंगे।”

पर्यावरण की रक्षा के लिए कार्यान्वयन समझौता (IA)

नेपाल के काठमांडू में त्रिभुवन विश्वविद्यालय
2015-07-31
त्रिभुवन विश्वविद्यालय में पर्यावरण विज्ञान विभाग के प्रोफेसर
केदार ररसद रिजाल

“हम भविष्य में अच्छी चीजें करने में सक्षम होंगे जब हम कोरिया और नेपाल दोनों के ज्ञान का उपयोग करके नेपाल की पर्यावरणीय समस्याओं को हल करने के लिए काम करेंगे। मैं कोरिया के कॉलेज के छात्रों को धन्यवाद देना चाहता हूं।”