चरित्र शिक्षा

सदस्यों को परमेश्वर की संतान के रूप में, ईश्वरीय स्वभाव में भाग लेने और
केवल बाहरी रूप से ईसाई होने के बजाय, अपने विश्वास को कार्य में लाने के लिए शिक्षित किया जाता है।

सच्चे ईसाई लोग जो कर्मों के साथ
विश्वास को अभ्यास में लाते हैं

सच्चे ईसाई धर्म के मूल्य के बारे में जानते हैं और परमेश्वर के वचन को अभ्यास में लाते हैं।
हम सदस्यों को सच्चे ईसाई के रूप में चरित्र निर्माण करने के लिए प्रयास करते हैं ताकि वे अच्छे कर्म कर सकें
और सम्मान, दूसरों की परवाह और एकता का एक अच्छा उदाहरण स्थापित कर सकें।

माता की शिक्षा

Teachings of Mother

माता की शिक्षाओं में परमेश्वर की अच्छी शिक्षाएं निहित हैं, जैसे कि प्रेम, एक सुंदर मन, धीरज और दूसरों की सेवा करना
जिन्हें परमेश्वर की संतानों को अभ्यास में लाने की आवश्यकता है। शिक्षाओं में, आप सुखी जीवन के लिए ज्ञान पा सकते हैं।

  • प्यार पाने से प्यार देने में ज्यादा आशिष है, जैसे परमेश्वर हमेशा प्यार देते हैं।
  • जब हम परमेश्वर को महिमा देते हैं, महिमा हमारे पास लौट आती है।
  • सुन्दर मन में कोई घृणा नहीं होती और वह एक सम्पूर्ण प्रेम को जन्म देता है।
  • जिस प्रकार इब्राहीम को अपने भतीजे लूत को अच्छी वस्तुएं देने पर बेहतर आशिष प्राप्त हुई, वैसे ही जब हम भाइयों और बहनों को अच्छी वस्तुएं देते हैं तब हम भी बहुतायत में आशिष पाते हैं।
  • घमण्डी बनने का अर्थ है सेवा करवाने की चाह रखना।
  • चाहे दूसरे काम न करें, हमें शिकायत नहीं करनी चाहिए लेकिन हमें अपना काम वफादारी से करना चाहिए। एक स्वामी की तरह मन रखना हमारा काम आनन्दमय और सरल बनने देता है।
  • शिकायत भरे मन से घमण्ड का जन्म होता है। जब हम परमेश्वर के प्रति कृतज्ञता दर्शाते हुए उनकी सेवा करते हैं तब शिकायत और घमण्ड हम से दूर हो जाते हैं और हृदय नम्रता से भर जाता है।
  • जब हम अपने भाइयों और बहनों की प्रशंसा करते हैं, वह प्रशंसा हमारे पास लौट आती है।
  • जिस प्रकार समुद्र सारी गंदगियों को ले लेता है और उसे साफ करता है, हमारा मन खुला और इतना सुन्दर होना चाहिए जिससे हम अपने भाइयों और बहनों की गलतियों को ढंक सकें।
  • जो भी मेमने के द्वारा मार्गदर्शन चाहता है, उसे मेमने से भी छोटा मेमना बनना चाहिए।
  • महान पात्र बनने के लिए त्याग की आवश्यकता है।
  • हमें वर्तमान समय के कष्टों को धैर्य से झेलना चाहिए, क्योंकि स्वर्ग का राज्य हमारी प्रतीक्षा कर रहा है।
  • यहां तक कि परमेश्वर भी अपनी सेवा करवाने के लिए नहीं परन्तु सेवा करने के लिए इस पृथ्वी पर आए। जब हम अपनी सेवा करवाने की चाह रखे बिना, एक दूसरे की सेवा करते हैं, तब परमेश्वर प्रसन्न होंगे।

परिवार की खुशी मानव जाति की खुशी है।

एक कहावत है, "घर एक पिता का राज्य, एक माता की दुनिया और संतान का स्वर्गलोक है।" एक परिवार स्वर्गलोक इसलिए बन सकता है क्योंकि परिवार के सदस्य एक दूसरे से प्रेम करते हैं। हम मासिक खुश परिवार के माध्यम से परिवार के संचार में मदद करते हैं जो परिवार की आराधना, संचार और प्रेम और दूसरों की परवाह को अभ्यास में लाने के लिए बनाया गया है। हम विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से पारिवारिक समरसता को बढ़ावा देते हैं, जैसे कि खुश परिवारों के लिए सेमिनार और पारिवारिक खेल कार्यक्रमों इत्यादि। परिवार को अधिक खुश बनाने के लिए हम सदस्यों को घर में उनकी प्रत्येक भूमिका के बारे में सोचने और एक दूसरे के प्रति आभार व्यक्त करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।

खुश परिवार

खुश परिवार परिवार की खुशी और संचार के लिए एक मासिक पत्रिका है। परमेश्वर के प्रेम के अंदर, माता-पिता और उनकी संतान, और भाई-बहन आपस में एक दूसरे की देखभाल करते हैं और खुश परिवार बनाते हैं।

पद/शीर्षक धारकों और शिक्षकों के लिए शिक्षा

माता का लीडरशिप जो माता के मन से भाइयों और बहनों की देखभाल करता है

हम नियमित शिक्षा का संचालन करते हैं ताकि प्रमुख सदस्य, पद/शीर्षक धारक और शिक्षक, आत्मिक भाइयों और बहनों की सेवा कर सकें जैसे परमेश्वर हमेशा हमारी सेवा करते हैं, और परमेश्वर के प्रेम को अभ्यास में ला सकें। चर्च परमेश्वर की आराधना करने का एक स्थान है और हमारी आत्माओं के लिए एक स्वर्गलोक है, जहां स्वर्गीय परिवार एक साथ रहता है, इसका कारण यह है कि माता का प्रेम अधिक बह निकलता है। हम पद/शीर्षक धारक सहित सभी सदस्यों की मदद करते हैं कि वे माता का लीडरशिप सीख सकें जो माता के मन से देखभाल, सेवा और प्रेम करता है। हम एकता और समरसता प्राप्त करते हैं जिससे परमेश्वर सबसे अधिक प्रसन्न होते हैं।

पुरोहित कर्मचारियों के लिए शिक्षा

पद/शीर्षक धारकों के लिए शिक्षा

युवा वयस्कों और मिडिल और हाई स्कूल के छात्रों के शिक्षकों के लिए शिक्षा

प्री–स्कूल बच्चों और प्राथमिक स्कूल के छात्रों के शिक्षकों के लिए शिक्षा

युवा वयस्कों के लिए चरित्र शिक्षा

हम कॉलेज के छात्रों, सैन्य कर्मियों और युवा वयस्क कर्मचारियों के लिए विभिन्न तरीकों से चरित्र शिक्षा को लागू करते हैं, ताकि वे एक ईमानदार चरित्र का निर्माण कर सकें और एक आशाजनक वैश्विक गांव को बना सकें। युवा वयस्क नई छमाही शिक्षा, संस्कृति कार्यक्रमों, हीलिंग सेमिनार, और विदेशी संस्कृति के अनुभवों के माध्यम से अच्छे शिष्टाचार का पालन करते हैं, समुदाय के विकास और समरसता में योगदान देते हैं, और वैश्विक दृष्टिकोण के साथ दुनिया के साथ संचार करते हैं।

किशोरों के लिए चरित्र शिक्षा

किशोरों के व्यक्तित्व, चरित्र, धारणा, और भविष्य के बदलाव इस बात पर निर्भर करते हैं कि वे खुद के अंदर क्या भरते हैं। हम उन्हें कार्यक्षेत्र-अनुभव, स्वयंसेवा कार्य और चरित्र-निर्माण विषय पर व्याख्यान आयोजित करते हैं, ताकि वे जीवन के मूल्य का एहसास करें और ईमानदार चरित्र और संवेदनशीलता के साथ उनके ज्ञान को चौड़ा कर सकें। किशोर सदस्य सर्दियों और गर्मियों की छुट्टियों के दौरान छात्र शिविर के माध्यम से भाषा और शिष्टाचार सीखते हैं। वे कई अलग अलग संस्थानों, प्रदर्शनियों, ऑर्केस्ट्रा कन्सर्ट और स्वयंसेवा कार्यों का अनुभव करके दूसरों की परवाह करना भी सीखते हैं।