WATV.org is provided in English. Would you like to change to English?

7 जून, 2019

अनन्त मुकुट के लिए

छांगवन, कोरिया से गांग ग्यंग मी

FacebookTwitterEmailLineKakaoSMS

जब हम परमेश्वर में रहते हैं, तब हम उद्धार के अनुग्रह और स्वर्ग के राज्य की प्रतिज्ञा के साथ खुश और आनन्दित हैं। लेकिन, बहुत सी चीजें हैं जिन्हें हमें परमेश्वर की संतानों के रूप में धैर्य के साथ सहन करना चाहिए।

शादी से पहले, सप्ताह के दिनों में काम करने के बाद शहर के सभी रंगीन नियोन साइन को पीछे छोड़कर चर्च जाना आसान नहीं था। लेकिन जब कभी मैंने प्रलोभन को त्यागकर चर्च में परमेश्वर के वचनों का अध्ययन किया या एक ही आयु वर्ग के युवा वयस्कों के साथ आत्मिक कार्य पर ध्यान दिया, तो मुझे अपने आप पर संयम रखने देने और मेरे कदमों को सिय्योन की ओर लाने के लिए मैं पिता और माता की बहुत आभारी थी।

शादी के बाद, चाहे वे अलग–अलग प्रकार की चीजें थीं परन्तु अकेले रहने की तुलना में अधिक चीजें थीं जिनमें संयम करने की जरूरत थी। जब कभी मैं परेशानी महसूस करती थी, मैंने खुदको प्रोत्साहित करते हुए बाइबल का यह वचन याद किया जो मेरी स्वर्ग की आशा को दृढ़ करता है।

“हर एक पहलवान सब प्रकार का संयम करता है; वे तो एक मुरझानेवाले मुकुट को पाने के लिए यह सब करते हैं, परन्तु हम तो उस मुकुट के लिए करते हैं जो मुरझाने का नहीं।”(1कुर 9:25)

खिलाड़ी स्वर्ण पदक जीतने के लिए खुदको पसंदीदा खाना खाने से रोकते हैं, सोने से रोकते हैं, और वह काम करने से रोकते हैं जो वे करना चाहते हैं। मुझे गहराई से महसूस हुआ कि चूंकि हम स्वर्ग के अनन्त मुकुट की आशा करते हैं, तो हमें कितना अधिक अपने आप पर संयम रखना चाहिए और अपना सर्वोत्तम प्रयास करना चाहिए। इसलिए मैं परमेश्वर पर और अधिक निर्भर हो सकती हूं और मुझे अनन्त मुकुट देने के लिए हर चीज में संयम रखने देने के लिए परमेश्वर को धन्यवाद देती हूं।

FacebookTwitterEmailLineKakaoSMS