WATV.org is provided in English. Would you like to change to English?

पार्सिपनी, एनजे, अमेरिका से निकोल वेबर

446 देखे जाने की संख्या

एक बहन ने कार्नेगी हॉल में पंसोरी का प्रदर्शन किया, जो संगीतमय कहानी कहने की एक कोरियाई शैली है, और पंसोरी के रूप में एक अंग्रेजी नया गीत गाया। यह अमेरिकी संगीत से पूरी तरह से अलग है, खासकर उन लोगों के लिए जो लोक संगीत या थिएटर कला में दिलचस्पी नहीं है। इस कार्यक्रम में सिय्योन के कई भाई-बहन शामिल हुए। जैसा कि पंसोरी प्रदर्शन जारी रहा, प्रदर्शन के मेजबान ने हमें सूचित किया कि एक सामान्य पंसोरी प्रदर्शन में आठ घंटे लगते हैं, लेकिन उनमें से कुछ हिस्सों का प्रदर्शन करेंगे जो माता के प्रेम की बेहतर समझ देते हैं।

बहन न केवल कोरियाई संस्कृति को संरक्षित करना चाहती थी, बल्कि उत्सुकता से चाहती थी कि अमेरिका के भाई और बहनें स्वर्गीय माता के प्रेम का एहसास करके उनके प्रति आभारी महसूस करें। उसके ईमानदार प्रयासों की बदौलत, लोग जो कभी कोरिया नहीं गए थे, वे हमारे स्वर्गीय माता-पिता का देश, कोरिया की संस्कृति के बारे में बहुत कुछ सीख सकते थे।

कहा जाता है कि पंसोरी पारंपरा को विरासत में प्राप्त करने और उसका प्रदर्शन करने के लिए, एक पेशेवर पंसोरी गायक के लिए कई वर्षों का प्रशिक्षण होता है। पेट के निचले हिस्से और कमर की मांसपेशियों का उपयोग करते हुए, गायक कहानी में गहरा दुःख, निराशा और खुशी की भावना व्यक्त करने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा देते हैं। इसी तरह, पंसोरी गायकों को पंसोरी के द्वारा सुननेवाले को एक संदेश देने के लिए अधिक बलिदान और प्रेम की जरूरत होती है। यह केवल हाल ही में रिकॉर्ड किया जाना शुरू हुआ, लेकिन यह पीढ़ी दर पीढ़ी मौखिक रूप से सौंपा जा रहा है। गाना सीखने के लिए, एक गायक वास्तविक प्रदर्शन को बार–बार सुनता है।

उनकी जीवन भर कोशिश की बदौलत, पंसोरी कोरियाई संस्कृति के एक बड़े हिस्से के रूप में रहा। पंसोरी को संरक्षित करने के लिए जीवन बदलने के निर्णय लेने वाले गायकों को अब कोरियाई सरकार द्वारा “मानव सांस्कृतिक संपत्ति” के रूप में माना जाता है, जिसका अर्थ है कि वे कोरिया के खजाने हैं।

मुझे बाइबल का एक वचन याद आया, “इसलिये हे भाइयो, मैं तुम से परमेश्वर की दया स्मरण दिला कर विनती करता हूं कि अपने शरीरों को जीवित, और पवित्र, और परमेश्वर को भावता हुआ बलिदान करके चढ़ाओ।” ठीक वैसे ही जैसे गायक जो मूल्यवान सांस्कृतिक विरासत को बनाए रखने के लिए खुद को समर्पित करते हैं, मैं भी एक पात्र जिसमें परमेश्वर निवास करते हैं, और उपकरण बनकर सुसमाचार के लिए खुद को समर्पित करना चाहती हूं,ताकि मैं स्वर्ग के राज्य में एक मूल्यवान खजाना बन सकूं।