WATV.org is provided in English. Would you like to change to English?

15 जुलाई, 2020

सुसमाचार की विजय-ध्वनि पूरे पापुआ न्यू गिनी में गूंज उठी

सिडनी, ऑस्ट्रेलिया से लुसील लैंगिरी

FacebookTwitterEmailLineKakaoSMS

पापुआ न्यू गिनी वह देश है जिसमें 600 से अधिक टापू हैं, 800 स्थानीय भाषाएं हैं, अपरिचित जानवर, प्राचीन जंगल, अनोखी संस्कृति और जैव विविधता… यह मेरा निजदेश है।

ऑस्ट्रेलिया में रहते हुए जब से मैंने सत्य को ग्रहण किया, तब से मैं अपने परिवार को, जो मेरे निजदेश में रहता है और परमेश्वर से बहुत अधिक प्रेम करता है, सबसे पहले उद्धार की आशीष पहुंचाना चाहती थी। मैंने उत्सुकता से भरकर पापुआ न्यू गिनी की ओर उड़ान भरी और सत्य का प्रचार किया, लेकिन परिणाम निराशाजनक था। चूंकि उन्हें ईसाई धर्म में अपने विश्वास पर बड़ा गर्व था, उनकी पूर्व-निर्धारित धारणा सत्य को जानने के लिए बाधाएं थीं। मेरे पास अपने दुखी मन को दबाकर सिडनी में वापस आने के अलावा कोई विकल्प नहीं था।

जैसे-जैसे समय बीत गया, पापुआ न्यू गिनी में जहां आत्मिक रूप से सिर्फ अंधकार था, थोड़ी-थोड़ी करके आशा की ज्योति दिखने लगी; मेरा छोटा भाई और उसकी पत्नी जब सिडनी आए, तब उन्होंने अपना मन बदला और एलोहीम परमेश्वर की संतान बनने की आशीष पाई। वे पापुआ न्यू गिनी में वापस गए और अत्याचार और कठिनाई के बावजूद सत्य की पुस्तकें पढ़कर और सिय्योन की सुगंध सुनकर अपना विश्वास बनाए रख रहे थे। उन्हें देखकर जो दुखों से हार न मानते हुए विश्वास रख रहे थे, पापुआ न्यू गिनी में सुसमाचार के कार्य के प्रति आशा और साहस मेरे मन में उमड़ आए।

‘एक दिन, जरूर पापुआ न्यू गिनी के सभी लोग सत्य समझेंगे!’

चूंकि सुसमाचार ऑस्ट्रेलिया के आसपास समोआ और टोंगा जैसे अन्य द्वीपों के देशों में भी फैल गया और 7 अरब लोगों को प्रचार करने का मिशन घोषित किया गया, पापुआ न्यू गिनी के प्रति मेरे सुसमाचार का सपना और अधिक स्पष्ट रूप से उत्कीर्ण हुआ।

जिस दौरान मैंने अपने सपने को पूरा करने के लिए कई बार अपने निजदेश का दौरा किया और सुसमाचार का प्रचार किया, पापुआ न्यू गिनी के लिए एक शॉर्ट टर्म मिशन यात्रा टीम का गठन हुआ। मैं सिय्योन के सदस्यों के लिए बहुत आभारी थी जो जोश के साथ शॉर्ट टर्म मिशन यात्रा मिशन के लिए तैयारी कर रहे थे। प्रचार यात्रा टीम के सदस्यों ने पापुआ न्यू गिनी के लिए रवाना होने से पहले छोटी-बड़ी परेशानियों का सामना किया, लेकिन बिना डगमगाए सभी सदस्यों की सुसमाचार का प्रचार करने की इच्छा प्रबल उठी।

आखिरकार, हमने सिडनी से ब्रिस्बेन के लिए एक घंटे दस मिनट तक उड़ान भरी और फिर ब्रिस्बेन से पापुआ न्यू गिनी की राजधानी, पोर्ट मोरेस्बी के लिए तीन घंटे तीस मिनट तक उड़ान भरी। जैसे ही हम वहां पहुंचे, हम बोमाना पुलिस बैरक की ओर गए जो हवाई अड्डे से कार के द्वारा पंद्रह मिनट की दूरी पर था, ताकि वहां मेरे दोस्तों और पड़ोसियों को प्रचार कर सकें। वहां मेरे पिता जो पुलिसवाला हैं, काम करते हैं और मैं पली-बड़ी हुई थी। मेरे छोटे भाई ने भी अपने व्यस्त कार्यक्रम के बावजूद, हमारे साथ शॉर्ट टर्म मिशन यात्रा में भाग लिया।

अगले दिन प्रचार शुरू हुआ। पहले जब मैं पापुआ न्यू गिनी आई थी, मैंने अपनी चचेरी बहन बर्नाडेटे और अपनी दोस्त जीन को वचन का प्रचार किया था, और वे प्रेरित हुए थे। उसके बाद उन दोनों ने अपने आसपास के लोगों को ईमानदारी से सत्य का प्रचार किया था। इस कारण बहुत से लोग यह सुनकर कि शॉर्ट टर्म मिशन टीम आई है, हमारे पास आए। वे परमेश्वर के निश्चित वचन सुनकर चकित हुए और उन्होंने हमें अपने परिवारों को भी सत्य का प्रचार करने को कहा, इसलिए हम पोलिस बैरक से नहीं निकल सके। तब मुझे पिछली स्थिति याद आई जब मुझे बर्नाडेटे और जीन को, जिनका विश्वास कमजोर था, पापुआ न्यू गिनी में छोड़कर वापस सिडनी जाना पड़ा। उनके लिए अपनी चिंताओं को दबाकर, मैंने आंसुओं के साथ उनसे कहा, “कृपया मेरे वापस आने तक थोड़ा सा इंतजार कीजिए।” लेकिन समय आ गया और हम खुशी के साथ फलों की कटाई कर रहे थे।

शॉर्ट टर्म मिशन टीम के सदस्य व्यस्त दिनचर्या के कारण थक गए होंगे, लेकिन उन्होंने अपनी पूरी सामर्थ्य के साथ प्रचार किया। मेरे छोटे भाई ने, जो लंबे समय से सिय्योन के स्थापित होने का इंतजार कर रहा था, मिशन टीम की बातों का अनुवाद करके आनन्द से स्वर्गीय पुरस्कारों को इकट्ठा किया। मेरा दिल अवर्णनीय आनन्द से भर गया।

कुछ ही दिनों में, एलोहीम परमेश्वर में पंद्रह आत्माओं का फिर से जन्म हुआ। सब्त के दिन पर, हमने एक होटल के सम्मेलन कक्ष में अनुग्रह से भरी पहली आराधना मनाई। शॉर्ट टर्म मिशन टीम के रवाना होने से एक दिन पहले, मंगलवार को नए भाइयों और बहनों ने हमें उन्हें सत्य सिखाने के लिए धन्यवाद देते हुए पूरे मन से तैयार किए गए पारंपरिक भोजन परोसे। और उन्होंने तीसरे दिन की आराधना में भी भाग लिया जो उस शाम मेरे पिता के घर में मनाई गई थी।

“मूर्तिपूजा न कर,” भाई मोसेस ने परमेश्वर के इस वचन को समझते ही क्रूस की आकृति वाला नेकलेस गले से निकाला, और भाई इम्मानुएल ने बाइबल के द्वारा झूठ और सत्य में फर्क करके सच्चे मन से पश्चाताप किया कि वह लंबे समय से गलत मार्ग पर चल रहा था, और उसने सच्चे परमेश्वर की ओर अपने परिवार का नेतृत्व किया। नए भाई और बहनें झूठे चर्च की रुकावट से नहीं हिले, परन्तु उन्होंने निडरता से बाइबल खोलकर उन्हें स्पष्ट रूप से सत्य बताया। मुझे बहुत राहत मिली। सुसमाचार के मार्ग की कल्पना करते हुए जिस पर ये भाई और बहनें परमेश्वर में चलेंगे, मैं खुशी से सिडनी की ओर रवाना हुई।

यदि मुझसे पूछा जाए कि मेरे जीवन में सबसे खुशी का पल कब था, तब मैं दो बार भी सोचे बिना कहूंगी कि यह वह पल था जब मैं व्यक्तिगत रूप से स्वर्गीय माता से मिली। इस पृथ्वी पर उस पल से अधिक खुशी का पल नहीं हो सकता। लेकिन पापुआ न्यू गिनी में अपने पूरे हृदय से अपने खोए हुए भाइयों और बहनों को खोजते हुए और उन्हें वचन खिलाते हुए, मैं वही खुशी महसूस कर सकी जो मैंने उस समय महसूस की थी जब मैं कोरिया में माता के साथ थी। मुझे महसूस हुआ कि भाईचारे का प्रेम भी माता की ओर से एक खुशी का उपहार है।

मैं एलोहीम परमेश्वर को मुझे वो आशीषें प्रदान करने के लिए धन्यवाद देती हूं जिन्हें पैसे से खरीदा नहीं जा सकता। यदि परमेश्वर ने किसी और को चुना होता, तो बेहतर परिणाम पाया जा सकता था। लेकिन उन्होंने मुझे चुना, जिसमें बहुत सी कमियां हैं, और मुझे मिशन सौंपा, ताकि मैं बहुत सी चीजों को सीखकर महसूस कर सकूं और एक महान सुसमाचार का सेवक बन सकूं। मैंने शॉर्ट टर्म मिशन टीम के सदस्यों से एकता के महत्व को और अपने छोटे भाई और उसकी पत्नी से, और बहन बर्नाडेटे और जीन से प्रचार के मूल्य को सीखा।

मैं अपने हृदय पर अपने मिशन और परमेश्वर की आशीषों को उत्कीर्ण करूंगी और अपनी परिस्थितियों में ईमानदारी से सत्य का प्रचार करूंगी ताकि इस एहसास और भावना को न मिटाया जा सके। जब तक पापुआ न्यू गिनी में सभी 69 लाख लोग सत्य न सुनें, तब तक मैं वहां के सुसमाचार के कार्य के लिए लगातार प्रार्थना और मदद करूंगी। पापुआ न्यू गिनी के लोग सच में परमेश्वर से और बाइबल के वचनों से प्रेम करते हैं। चाहे वे कितने ही व्यस्त क्यों न हों, जब कोई बाइबल के वचन का प्रचार करता है, तब वे जो कर रहे हैं उसे रोककर वचनों पर ध्यान देते हैं। मैं उत्सुकता से उस दिन का इंतजार करती हूं जिस दिन मैं वहां वापस जाकर उन्हें वचन का प्रचार करूंगी।

मुझे यकीन है कि यह शॉर्ट टर्म मिशन एक संकेत है जो दिखाता है कि पापुआ न्यू गिनी में सुसमाचार का कार्य बहुत समृद्ध हो जाएगा। जब कभी मैं इसकी थोड़ी सी भी कल्पना करती हूं कि परमेश्वर किस प्रकार का कार्य वहां करेंगे, मेरा मन उल्लासित होता है, ठीक उस दिन की तरह जब मैं पहले शॉर्ट टर्म मिशन के लिए गई थी। स्वर्गीय परिवार के सभी सदस्यो! क्या आप भी पापुआ न्यू गिनी के भविष्य को देखने के लिए उत्सुक नहीं हैं?

FacebookTwitterEmailLineKakaoSMS