WATV.org is provided in English. Would you like to change to English?

शुद्ध सोने से भी अधिक बहुमूल्य आत्माओं को खोजना

कोटा किनाबालु, मलेशिया से स्टेफी एक्वीलीन एडेलबर्ट

534 देखे जाने की संख्या
FacebookTwitterEmailLineKakaoSMS

परमेश्वर के अनुग्रह के अंतर्गत कोटा किनाबालु सिय्योन के सदस्यों को 2017 में पहली बार शॉर्ट टर्म मिशन यात्रा करने की आशीष मिली। हम फरवरी में पहली यात्रा पर पापारैन्ड के लिए और मार्च में दूसरी यात्रा पर टुआरान के लिए रवाना हो गए। पापारैन्ड सबाह राज्य का एक जिला है। चूंकि वह मेरा गृहनगर है, इसलिए कई वर्ष पहले सत्य को ग्रहण करने के बाद यह मेरी सबसे बड़ी आशा बनी रही कि मैं पापारैन्ड में प्रचार करूं। “राज्य का यह सुसमाचार सारे जगत में प्रचार किया जाएगा कि सब जातियों पर गवाही हो(मत 24:14),” अब इस बाइबल की भविष्यवाणी के पूरा होने का समय है, इसलिए मैं इस बात से बहुत भावुक हुई कि परमेश्वर ने इस शॉर्ट टर्म मिशन में भाग लेने के लिए मुझे चुन लिया है।

स्वर्गीय माता ने हमें आशीष का वचन दिया था, “जहां कहीं आप जाएंगे, वहां सिय्योन स्थापित होगा।” उनके वचनों ने हमें बड़ा साहस और आशा दी थी, और हम पवित्र आत्मा से भर गए थे। शॉर्ट टर्म मिशन टीम के सदस्यों ने माता के आशीष के वचनों को अपने मन में रखा और सब मिलकर एकता के साथ बहुमूल्य आत्माओं को ढूंढ़ने के लिए निकाले।

अपने खोए हुए भाइयों और बहनों को खोजना मुश्किल था। लेकिन एलोहीम परमेश्वर ने अपनी संतानों को खोजने के लिए अपना पूरा जीवनकाल समर्पित कर दिया था। उनके लिए यह कितना कठिन और हृदयविदारक समय हुआ होगा! यह बड़ी आशीष थी कि मैं इस शॉर्ट टर्म मिशन यात्रा के दौरान पिता और माता के दुख और पीड़ा का थोड़ा-सा भी एहसास कर सकी।

हमने शारीरिक और आत्मिक रूप से स्वस्थ फलों को खोजने का अपना लक्ष्य सफलतापूर्वक पूरा किया। उनमें से एक भाई पॉलिनुस है। उसने वचन सुनकर बिना संकोच किए तुरन्त नया जन्म पाया। हमने उससे सुना कि वह हमेशा अपने साथ बाइबल रखता था और हर खाली समय में उसे पढ़ता था। हमें लगा कि भाई पवित्र आत्मा और दुल्हिन की बुलाहट का इंतजार कर रहा था। जिस दिन उसने सत्य को ग्रहण किया, उस दिन तीसरे दिन की आराधना थी। उस दिन उसने आराधना मनाई और अपने पूरे हृदय से नए गीत भी गाए। आराधना के बाद, उसने सत्य के वचन का अध्ययन किया और महसूस किया कि पिता आन सांग होंग इस युग के सच्चे उद्धारकर्ता हैं। उस क्षण, मुझे फिर से महसूस हुआ कि क्यों बाइबल कहती है कि एक आत्मा चांदी या सोने से भी अधिक बहुमूल्य है।

शॉर्ट टर्म मिशन यात्रा के अंतिम दिन दूसरा सुंदर फल उत्पन्न हुआ; वह भाई जुली है। जब उससे पूछा गया कि क्या उसने कभी स्वर्गीय माता के बारे में सुना, तब उसने हमें जवाब दिया, “ओह, क्या वह बाइबल में दुल्हिन है?” वास्तव में पहले उसकी बहन ने उसे माता के बारे में प्रचार किया था। उसके बाद से लंबा समय बीत जाने के बावजूद उसे उस बात की याद आती रही। भाई ने वचन पढ़ने के बाद तुरन्त उद्धार का चिन्ह प्राप्त किया और स्वर्गीय परिवार का सदस्य बन गया। वह सचमुच बड़ा मार्मिक क्षण था।

पिता और माता ने हमारे लिए सुंदर फल पहले से तैयार किए थे। उन फलों को हम कितना ज्यादा खोजते हैं, यह इस बात पर निर्भर करता है कि हम उन्हें खोजने के लिए कितना अधिक प्रयास करते हैं।

यदि हम माता के हृदय के साथ उन्हें बड़ी उत्सुकता से खोजें, तो अवश्य ही हम उन्हें खोजेंगे जो शुद्ध सोने से अधिक बहुमूल्य हैं। स्वर्गीय पिता “यदि मैं नहीं जाऊंगा, तो कौन उन्हें प्रचार करेगा?” यह कहते हुए, प्रचार करने के लिए ऊंचे और गहरे पहाड़ों पर चढ़ते थे। यदि हम हमेशा पिता को याद करेंगे, तो हम प्रचार करने से बिल्कुल हार नहीं मान सकेंगे। हमें यह महसूस करने की अनुमति मिली, इसलिए हम चार दिनों की शॉर्ट टर्म मिशन यात्रा के दौरान आनन्दित और आभारी रह सकते थे।