WATV.org is provided in English. Would you like to change to English?

30 मार्च, 2020

सीखने और भरने का समय

बुकियॉन, कोरिया से सिन नु री

FacebookTwitterEmailLineKakaoSMS

एक युवा वयस्क बनने के बाद, लीडर बहनों के प्रेम से भरी सभाओं में भाग लेने पर मैं सिय्योन की गर्मजोशी को जानने लगी। एक दिन, हमने एक वीडियो देखा और सदस्यों के साथ सिय्योन की सुगंध साझा की। एक बहन ने यह कहते हुए आंसू बहाए कि वह माता की शुक्रगुजार है और उनके प्रति खेदित है जो हमारे लिए अपने आप को बलिदान करती हैं। मैं भी रो पड़ी। मुझे यह नहीं पता था कि क्यों, लेकिन मैं उस बहन से बहुत प्रभावित हुई, जिसने पूरे दिल से पश्चाताप किया, और साथ ही मैं आराधना के दौरान परमेश्वर के अनमोल वचनों पर ध्यान न देने के लिए अपने आप पर शर्मिंदा हुई।

इसके तुरंत बाद, मैंने फिर से जन्म लेने और बदलने की कोशिश की। स्कूली दिनों में, मैं आराधना के बाद तुरंत घर जाती थी कहीं ऐसा न हो कि कोई मुझसे बात करे, लेकिन उन दिनों के विपरीत मैंने बाइबल का अध्ययन करने के लिए सभा में भाग लिया और स्वेच्छा से सब कुछ करना चाहा जिससे मैं आशीष प्राप्त कर सकूं। मुझे विदेशी मिशन में दिलचस्पी होने लगी। मैंने पहले सोचा था कि इससे मेरा कोई लेना-देना नहीं है, लेकिन यह अब मेरे खुद के मिशन जैसा लगने लगा। भोर की ओस के समान युवा सदस्य हमारे खोए हुए भाइयों और बहनों को खोजने के लिए साहसपूर्वक और ईमानदारी से सुसमाचार का प्रचार कर रहे थे, इसने मेरे उत्साह को प्रज्वलित किया।

जब मैंने परमेश्वर पर निर्भर रहते हुए अपनी इच्छा को पूरा करने का मन बना लिया था, विभिन्न बाधाओं के बावजूद विदेशी मिशन के लिए मार्ग व्यापक रूप से खोला गया था। मैं इतनी खुश और शुक्रगुजार थी कि मैंने उत्साहित होकर ब्राजील जाने वाले विमान में सदस्यों के साथ सुसमाचार का प्रचार किया।

एक बंदरगाह शहर, रिसीफ़ी में अभी-अभी सुसमाचार की शुरुआत हुई थी, जो उत्तर पूर्वी ब्राजील में पेरनाम्बुको राज्य की राजधानी है। चूंकि पूर्व शाखा चर्च की छत लोहे की प्लेट से बनी थी, इसलिए बारिश के दिनों में बारिश की तेज आवाज के कारण हमारे लिए उपदेश सुनना कठिन होता था, लेकिन सदस्य बिना किसी शिकायत के विश्वास में बढ़ रहे थे।

इस उम्मीद के साथ कि हमें ऐसे सुंदर भाई-बहनें मिलेंगे, मैंने ब्राजील में सुसमाचार के द्वार पर दस्तक दी। मैं पुर्तगाली भाषा में निपुण नहीं थी; स्थानीय लोग मुझे मुश्किल से समझ सके। फिर भी, कई लोगों ने धैर्य के साथ मेरे प्रचार पर ध्यान दिया।

जब मैं पहली बार बहन नाइड से मिली और उसे स्वर्गीय माता के बारे में बताया, तो उसने कहा कि उसने पहले भी सुना था और उसे हमसे मिलकर खुशी हुई। यह पता चला कि उसने लगभग चार साल पहले सत्य को ग्रहण किया था जब रेसिफ़ी में सुसमाचार की भूमि को जोता जा रहा था। भले ही उसने अपनी दो बेटियों और अपनी पोती के साथ परमेश्वर की संतान बनने की आशीष प्राप्त की, लेकिन दूसरी बेटी के गंभीर विरोध के कारण उसे चर्च आना बंद करना पड़ा। लंबे समय के बाद, उसने फिर से सिय्योन में आने की कोशिश की, लेकिन वह इसलिए नहीं आ सकी क्योंकि उसने चर्च का टेलीफोन नंबर और स्थान भूल गई थी। उसने बताया कि उस समय वह कितनी दुखी थी।

बहन सत्य के लिए तरस गई थी और बाइबल में “चर्च ऑफ गॉड” वाक्यांश देखकर जिज्ञासु हो गई। उसने प्रोटेस्टेंट चर्च के पादरी से इसके बारे में पूछा, लेकिन उसे कोई जवाब नहीं मिला और वह निराश हो गई। जब हमने बाइबल के माध्यम से गवाही दी कि चर्च ऑफ गॉड वह स्थान है जहां फसह का पर्व मनाया जाता है, तो वह बहुत खुश हुई। उसी वक्त, बहन ने सिय्योन में अपनी परिचित का नेतृत्व किया, जो उसके बगल में सुन रही थी, और फिर अपनी बेटियों का, जो सत्य से दूर हो गई थीं, और उस बेटी का भी जिसने चर्च ऑफ गॉड का विरोध किया था, सच्चे परमेश्वर की ओर नेतृत्व किया।

बहन क्लाईड की कहानी भी अनुग्रहपूर्ण है। भले ही वह बाइबल का अध्ययन करती रही, फिर भी वह न तो सिय्योन में आई और न ही उसने परमेश्वर को ग्रहण किया, जिससे हम चिंतित हुए। एक दिन, वह भारी बारिश में चलकर अपनी बेटी के साथ सिय्योन में आई। उसे पूरा भीगा हुआ देखकर, मैंने हैरान होकर उससे पूछा कि क्या हुआ। उसने कहा कि वह आखिरकार सत्य के बारे में आश्वस्त हो गई। वह लोगों से यह पूछते हुए कि चर्च कहां है, चर्च में आई। जब से उसने परमेश्वर को ग्रहण किया, वह परमेश्वर के नियमों का ईमानदारी से पालन करते हुए स्वर्गीय आशीष प्राप्त कर रही है।

जैसे ही सुंदर स्वर्गीय परिवार के सदस्य सिय्योन में आए, हाउस चर्च छोटा पड़ गया कि हमें एक बड़े मंदिर की तलाश करनी पड़ी। उसी समय, हमने एक उपयुक्त भवन ढूंढ़ लिया और फसह से पहले नए मंदिर का निर्माण पूरा करने का निर्णय लिया। सभी सदस्यों ने काम के लिए अपनी आस्तीन ऊपर चढ़ाई। भले ही गर्म मौसम में दीवारों को निर्माण करने, सीमेंट लगाने और सफाई करने के बाद सभी थक गए, हम शुक्रगुजार थे कि हम मंदिर की स्थापना में मदद कर सके।

नया मंदिर जो पिता और माता की आशीष और सदस्यों की एकता के द्वारा बनाया गया था, जल्द ही ईमानदार आत्माओं से भर गया। एक बहन बचपन से ही माता परमेश्वर के अस्तित्व के बारे में जानने को उत्सुक थी और उसने अपने पड़ोस में एक सिय्योन के सदस्य के माध्यम से स्वर्गीय माता को ग्रहण किया था और अपने पति और बेटों का भी नेतृत्व किया। एक भाई ने प्रोटेस्टेंट चर्च में भाग लेने के दौरान इंटरनेट पर सब्त के दिन के बारे में हमारे प्रधना पादरी के उपदेशों को देखा और सिय्योन की तलाश की। जब भी मैंने सदस्यों को माता की बांहों में लिपटे हुए एक बच्चे के समान खुश देखा, तो मेरा मन खुशी से भर उठा। कभी-कभी, मुझे उत्पीड़न और पीड़ाएं होती थीं। कभी-कभी, मैं उदास और दुखी थी। हालांकि, मैं परमेश्वर पर अधिक निर्भर रह सकी और फल उत्पन्न करने की खुशी को और भी अधिक महसूस कर सकी।

नया मंदिर जो पिता और माता की आशीष और सदस्यों की एकता के द्वारा बनाया गया था, जल्द ही ईमानदार आत्माओं से भर गया। एक बहन बचपन से ही माता परमेश्वर के अस्तित्व के बारे में जानने को उत्सुक थी और उसने अपने पड़ोस में एक सिय्योन के सदस्य के माध्यम से स्वर्गीय माता को ग्रहण किया था और अपने पति और बेटों का भी नेतृत्व किया। एक भाई ने प्रोटेस्टेंट चर्च में भाग लेने के दौरान इंटरनेट पर सब्त के दिन के बारे में हमारे प्रधना पादरी के उपदेशों को देखा और सिय्योन की तलाश की। जब भी मैंने सदस्यों को माता की बांहों में लिपटे हुए एक बच्चे के समान खुश देखा, तो मेरा मन खुशी से भर उठा। कभी-कभी, मुझे उत्पीड़न और पीड़ाएं होती थीं। कभी-कभी, मैं उदास और दुखी थी। हालांकि, मैं परमेश्वर पर अधिक निर्भर रह सकी और फल उत्पन्न करने की खुशी को और भी अधिक महसूस कर सकी।

कोरिया में सुसमाचार के पथ पर चलते हुए, मेरे पास अभी भी सीखने और भरने के लिए बहुत सी चीजें हैं। जैसा कि परमेश्वर ने मेरे लिए समय और प्रक्रिया तैयार की ताकि मैं आशीष प्राप्त करने के योग्य बन सकूं, मैं उत्सुकता से आशा करती हूं कि मैं परमेश्वर के कार्य में थोड़ी सी मदद कर सकूं। इस इच्छा को पूरा करने के लिए, मैं उस खुशी और धन्यवाद के साथ जो मुझे ब्राजील में मिला था, किसी भी स्थान पर मेहनत से सुसमाचार का प्रचार करूंगी और अपने भाइयों और बहनों को खोजूंगी, जो परमेश्वर की आवाज का इंतजार कर रहे हैं।

FacebookTwitterEmailLineKakaoSMS